99% लोग सफल नहीं होते। Success Hindi Motivational Story


99% लोग सफल नहीं होते। Success Hindi Motivational Story


Hello दोस्तो मुझे विश्वास  है कि आप सभी अच्छे होगो । आपने कभी सोचा की 99% लोग क्यो  सफल नहीं होते। ऐसा इसिलए है क्योकि  ये 99% लोग खुद को बहुत  हि जय्दा समझदार समझते है। आज की दुनिया मे लोगो की ऐसी सोच हो गयी है। ये ना तो किसी सफल  से सीखना चाहते है की वे सफल कैसे बने और ना ही किसी असफल  की असफलताओं से कुछ सीखना चाहते है। आइये एक Motivational  से समझते है की किसी भी High Achiever का mindset किस पकार कायॆ करता है। (99% लोग  सफल नहीं होते। Success Hindi Motivational Story).


Hello friends I believe that you all are good You never thought 99% of people were successful. This is because 99% of people consider themselves to be very wise. This kind of thinking has been made in today's world. They do not want to learn from any successful how they succeed and neither do anything to learn from the failures of any failure. Let's understand from a motivational how the mindset of any High Achiever works. (99% do not succeed.) Success Hindi Motivational Story.



एक बार की बात है दो दोस्त थे ज्योतिष और मोहन। ज्योतिष अपने जीवन के कठीन समय से गुजर रहा था। उसे जीवन मे बार असफलता मिल रही थी। लेिकन मोहन एक High achievers था। मोहन की खास बात यह थी की वह जो भी काम करता था। उसमे सफल जरूर होता था।
एक दिन ज्योतिष, मोहन से मिलने आया, और उससे उसकी सफलता का राज पूछा। यह सुनकर मोहन हॅसने लगा, और बोला की असफल यों की असफलताओं से ही मने सफल होना सीखा है। यह सुनकर ज्योतिष  सोच म पड़ गया और बोला कि यह कैसे संभव है। किसी असफल  की असफलताओं से सीखकर तुम सफल कैसे बन सकते हो।


Once, two friends were Jyotish  and Mohan. Jyotish  was passing through the rigor of his life. He was getting failure in his life time. But Mohan was a high achievers. The special point of Mohan was that whatever he used to do It was definitely successful in that.
One day Jyotish  came to meet Mohan, and asked him the secret of his success. Hearing this, Mohan started to think, and said that only the failures of his failures have taught him to be successful. Listening to this, Jyotish came into thinking and said how it is possible. How can you succeed by learning from the failures of a failure?


वो करो जो १% लोग कर रहे है। High Achievers Motivational Story


मोहन ने कहा – मै तुम्हे  यह राज बता दूँगा लेिकन पहले मुझे बताओ की तुम असफल कैसे हुए। Jyotish ने कहा – मेरे पास बहुत पैसा था, और मै एक अमीर  का जीवन जी रहा था। मै ओर भी अिधक पैसा कमाना चाहता था। इसिलए मने एक     कंपनी खोली। मै जल्दी सफल होना चाहता था। इसिलए उसी साल मने दूसरी कंपनी भी खोल दी।
मेरा सारा का सारा पैसा इन दोनों कंपनी मे लग गया। मने जल्दी  मे दो कंपनी खोल तो ली लेिकन मै  अपनी किसी भी कंपनी को पूरा समय नहीं दे पा रहा था। जिसके कारण कुछ ही समय बाद दोनों कंपनी मे घटा  चली गयी। मै दोनों कंपनी से होने वाले loss को profit म बदल सकता था। लेिकन मेरे पास उस loss को पुरे करने के लिए पैसे ही नहीं बचे थे। धीरे – धीरे कं पनी का घाटा बढ़ता चला गया और दूसरे ही साल मेरी दोनों कं पनी बंद हो गयी।



Mohan said - I will tell you this secret but first tell me how you have failed. Jyotish  said - I had a lot of money, and I was living a rich life. I wanted to earn even more money. That's why I opened a company. I wanted to succeed quickly. So in the same year I opened another company.
All of my money was invested in these two companies. Mani opened up two companies in a hurry, but I was not able to spend time with any of my company. Which led to the loss of both the companies shortly after. I could change losses from both the companies to profit. But I did not have the money left to fulfill that loss. Gradually the loss of the water became increasingly gradually and in the second year my wife stopped crying.


Topper Student Success motivation in Hindi


यह सब सुनकर मोहन ने ज्योतिष से कहा – तुारी असफलता दे दो कारण थे। एक तो तुमने दो कंपनी एक ही साल मे खोल ली। जिसके कारण तुम किसी भी कंपनी को पूरा समय नहीं दे पाये। दुसरा – तुमने अपना सारा का सारा पैसा इस दोनों कंपनी मे लगा दिया और जब तुम्हे घाटा हुआ। उससे उभरने के लिए तुम्हारे पास एक भी पैसा नहीं बचा। जिसके कारण तुम आज एक असफल व्यक्ति हो। मैं इसी प्रकार असफल व्यक्ति के द्वारा की गयी गलतियों से सीख लेकर सफल होता रहा हूँ।


Listening to all this, Mohan said to Jyotish  - Turning the failure was two reasons. One, you opened two companies in one year. Because of which you can not spend any company full time. Secondly - you put all your money in both of these companies and when you got lost. You do not have any money left to emerge from that. Because of which you are an unsuccessful person today I have been successful by learning from the mistakes made by the failed person.


Post a comment

2 Comments